Cricket : India Won Five Matches ODI Series Against West Indies, Rahane Become Player Of The Series

स्पोर्ट्स डेस्क.भारतीय क्रिकेट टीम ने वनडे सीरीज के आखिरी मैच में वेस्ट इंडीज को गुरुवार को 8 विकेट से हरा दिया। इस मैच को जीतकर भारत ने पांच मैचों की वनडे सीरीज भी 3-1 से अपने नाम कर ली। आखिरी मैच में टीम के लिए विराट कोहली (111*) और दिनेश कार्तिक (50*) ने शानदार बैटिंग की, तो वहीं बॉलिंग में मो. शमी (4 विकेट) और उमेश यादव (3 विकेट) ने कमाल कर दिया। सीरीज का पहला मैच बारिश की वजह से रद्द हो गया था। 109 मैचों में विराट की ये 18वीं सेन्चुरी थी। इसके साथ ही वे टारगेट का पीछा करते हुए सबसे ज्यादा सेन्चुरी लगाने वाले बैट्समैन भी बन गए हैं। इस मामले में उन्होंने सचिन तेंडुलकर (232 मैच, 17 सेन्चुरी) को पीछे छोड़ दिया। ऐसा रहा सीरीज के पांचों मैचों का रिजल्ट…
पहला वनडेः बारिश की वजह से रद्द
दूसरा वनडेः भारत की 105 रन से जीत
तीसरा वनडेः भारत की 93 रन से जीत
चौथा वनडेःविंडीज की 11 रन से जीत
पांचवां वनडेः भारत की 8 विकेट से जीत
विंडीज में लगातार तीसरी वनडे सीरीज जीत
– टीम इंडिया ने इस सीरीज को जीतकर कैरेबियाई धरती पर लगातार सीरीज जीत की हैट्रिक लगा ली। इससे पहले भारत ने साल 2009 में एमएस धोनी की कप्तानी में 4 मैचों की सीरीज 2-1 से जीती थी। वहीं साल 2011 में सुरेश रैना की कप्तानी में 3-2 से सीरीज जीती थी।
– इसके अलावा कैरेबियाई धरती पर ओवरऑल ये भारत की चौथी वनडे सीरीज जीत है। दोनों देशों के बीच यहां कुल 8 सीरीज हुई हैं, जिसमें दोनों टीमों ने 4-4 सीरीज जीती हैं।
– भारत ने सौरव गांगुली (2002), एमएस धोनी (2009), सुरेश रैना (2011) और विराट कोहली (2017) की कप्तानी में वहां वनडे सीरीज जीती हैं।
विराट की कप्तानी में विदेश में पहली जीत
– वनडे टीम का फुलटाइम कप्तान बनने के बाद विराट की कप्तानी में भारत ने विदेशी धरती पर पहली बार कोई वनडे सीरीज जीती है।
– इससे पहले विराट की कप्तानी में भारत ने साल 2013 में जिम्बाब्वे में 5-0 से वनडे सीरीज जीती थी। लेकिन तब वे टीम के फुलटाइम कप्तान नहीं थे।
– फुलटाइम कप्तान बनने के बाद भारत ने विराट की कप्तानी में पहली वनडे सीरीज पिछले साल इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू जमीन पर खेली थी। जिसमें इंग्लैंड को 2-1 से मात दी थी।
– इस जीत के बाद भारत ने ICC वनडे रैंकिंग में अपनी तीसरी पोजिशन बरकरार रखी है। लेकिन अगर भारत ये सीरीज हार जाता तो उसकी रैंकिंग गिरने का खतरा था। हालांकि ज्यादा निचली रैंकिंग वाली टीम से जीतने की वजह से भारत को इस सीरीज जीत का फायदा नहीं मिला।
टीम इंडिया की जीत में टॉप परफॉर्मर
– अजिंक्य रहाणे
– विराट कोहली
– एमएस धोनी
– कुलदीप यादव
– उमेश यादव
– हार्दिक पंड्या
अजिंक्य रहाणे (मैच- 5, रन- 336, बेस्ट- 103)
– अजिंक्य रहाणे ने इस सीरीज में हाइएस्ट रन स्कोरर बने। सीरीज के पांच मैचों में उन्होंने 67.2 के एवरेज से कुल 336 रन बनाए। जिसमें तीन फिफ्टी और एक सेन्चुरी शामिल है।
– रहाणे ने पहले मैच में 62, दूसरे मैच में 103, तीसरे मैच में 72, चौथे मैच में 60 और आखिरी मैच में 39 रन बनाए।
– रहाणे अब बतौर ओपनर 5 मैचों की सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले दूसरे भारतीय बैट्समैन बन गए हैं। उनसे आगे रोहित शर्मा हैं जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2015-16 में 441 रन बनाए थे।
– सीरीज में उनकी इस शानदार परफॉर्मेंस को देखते हुए उन्हें ‘प्लेयर ऑफ द सीरीज’ चुना गया।
विराट कोहली (मैच- 5, रन- 244, बेस्ट- 111*)
– भारतीय कप्तान विराट कोहली के लिए भी ये सीरीज काफी अच्छी साबित हुई। इस दौरान उन्होंने 1 सेन्चुरी और 1 फिफ्टी लगाते हुए कुल 244 रन बनाए।
– विराट ने सीरीज के आखिरी मैच में सेन्चुरी लगाते हुए टीम को बड़ी आसानी के साथ ये मैच जितवा दिया। जिसके बाद भारत ने ये सीरीज 3-1 से अपने नाम कर ली।
– ये उनके वनडे करियर की 28वीं सेन्चुरी रही। इसके साथ ही वे वनडे हिस्ट्री में सबसे ज्यादा सेन्चुरी लगाने के मामले में तीसरे नंबर पर आ गए हैं।
– हाइएस्ट सेन्चुरी के मामले में विराट ने पूर्व श्रीलंकाई ओपनर सनथ जयसूर्या (28 सेन्चुरी) को पीछे छोड़ा। जिन्होंने इतनी सेन्चुरी लगाने के लिए 433 वनडे इनिंग्स खेली थीं। जबकि विराट ने 181वीं इनिंग में ही 28 सेन्चुरी पूरी कर लीं।
– टारगेट का पीछा करते हुए 109 मैचों में विराट की ये 18वीं सेन्चुरी रही। इसके साथ ही वे टारगेट का पीछा करते हुए सबसे ज्यादा सेन्चुरी लगाने वाले बैट्समैन भी बन गए हैं। इस मामले में उन्होंने सचिन तेंडुलकर (232 मैच, 17 सेन्चुरी) को पीछे छोड़ दिया।
– सीरीज के आखिरी मैच में विराट को प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया। इस मैच में बनाए उनके 111* रन सीरीज का हाइएस्ट इंडिविजुअल स्कोर भी रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *