Why Is Pm Narendra Modi Silent Over The Attack On Amarnath Pilgrims

अनंतनाग अटैक पर मोदी खामोश हैं: राहुल, BJP बोली- वे आतंकियों पर चुप क्यों?

नई दिल्ली. राहुल गांधी ने नरेंद्र मोदी पर आरोप लगाया कि वे अमरनाथ यात्रियों पर हुए हमले को लेकर खामोश क्यों हैं? राहुल ने ये भी कहा कि मोदी सरकार की पॉलिसीज ही कश्मीर में आतंकियों को शह दे रही हैं। इस पर बीजेपी ने कहा कि राहुल ने छुट्टी से लौटने के बाद मोदी पर तो निशाना साधा लेकिन आतंकियों पर कुछ नहीं बोले। बता दें कि अनंतनाग में सोमवार रात हुए इस हमले में 5 महिलाओं समेत 7 यात्रियों की मौत हो गई। 15 यात्री जख्मी भी हुए थे। हमले के शिकार 3 यात्री गुजरात, 2 दमन और 2 महाराष्ट्र के थे। ये लोग यात्रा पूरी कर जम्मू लौट रहे थे। बीजेपी-पीडीपी गठबंधन की कीमत देश को चुकानी पड़ रही है…
– राहुल ने ट्वीट किया, “जम्मू-कश्मीर में बीजेपी के पीडीपी से गठबंधन की कीमत पूरे देश को चुकानी पड़ रही है। गठबंधन से मोदी को कुछ वक्त के लिए राजनीतिक फायदा तो हो सकता है लेकिन इसके चलते वहां मासूमों की जान जा रही है।”
– “मोदी की पॉलिसीज के चलते कश्मीर में आतंकियों को स्पेस मिल रहा है। ये भारत की स्ट्रैटजी की हार है।”
– राहुल ने एक फॉर्मूले के जरिए भी मोदी पर निशाना साधा। उन्होंने लिखा- “मोदी का व्यक्तिगत फायदा= भारत का स्ट्रैटजिक नुकसान+देश के मासूमों की हत्या।”
क्या बोले कांग्रेस नेता सिंघवी?
– कांग्रेस के स्पोक्सपर्सन अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा, “इनपुट्स होने के बावजूद इंटेलिजेंस का ये बड़ा फेल्योर है। प्रधानमंत्री ने इसके बाद कोई कदम नहीं उठाया, उन्होंने सिक्युरिटी में चूक की कोई बात नहीं की, इसके लिए हम उनकी निंदा करते हैं।”
– “आतंकवाद पर बीजेपी सरकार का लचीला रुख है। वे देश की सिक्युरिटी के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। सरकार आतंकवाद के खिलाफ जंग में असफल रही है। ये दिखाता है कि सरकार की पॉलिसीज नाकाम रही हैं। टीवी स्टूडियो में बहस कर बीजेपी फेल्योर की जिम्मेदारी से बच नहीं सकती।”
– “बीते 38 महीनों से देश के पास पार्टटाइम डिफेंस मिनिस्टर है। खुद प्रधानमंत्री ये जिम्मेदारी क्यों नहीं लेते कि देश की सुरक्षा खतरे में है। जम्मू-कश्मीर के भी हालात खराब हैं। बीजेपी-पीडीपी की गठबंधन सरकार ये मानने को तैयार ही नहीं कि वह कई मोर्चों पर नाकाम रही है। वहां हालात सुधरने का नाम ही नहीं ले रहे।”
क्या बोली बीजेपी?
– मंत्री हंसराज अहीर ने कहा कि हम सिक्युरिटी में खामियों की जांच करेंगे। जहां कमी रह गई है, उन्हें पूरा किया जाएगा।
– वहीं पीएमओ में मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा कि मोदी व्यक्तिगत रूप से स्थिति पर नजर रखे हुए हैं।
– कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा, “राहुल छुट्टियों से लौटे तो मोदी पर आरोप लगाए लेकिन आतंकियों के खिलाफ कुछ नहीं बोले। मैं मणिशंकर अय्यर से पूछना चाहती हूं कि क्या उन्होंने मोदी को हटाने और कांग्रेस को सत्ता में लाने के लिए पाकिस्तान की मदद नहीं मांगी थी? ये राहुल का पॉलिटिकल एजेंडा है या पर्सनल?”
– स्मृति ने ये भी कहा, “कश्मीर की जो भी चुनौतियां हैं, वो नेहरू-गांधी परिवार की विरासत हैं। पूरा देश इस बात को जानता है।”
– पूर्व केंद्रीय मंत्री अय्यर पाक के एक चैनल में डिस्कशन में शामिल हुए थे। उन्होंने कथित रूप से कहा था कि अगर दोनों देश (भारत-पाक) आपस में बात करें तो मोदी को पद से हटाया जा सकता है।
मोदी ने कहा- भारत नहीं झुकेगा
हमले के बाद सोमवार रात नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा, ”जम्मू कश्मीर में शांतिप्रिय अमरनाथ यात्रियों पर कायराना हमले से दुख हुआ। हर किसी को इस हमले की कड़ी से कड़ी निंदा करनी चाहिए। मेरी संवेदनाएं हमले में मारे गए लोगों के परिजनों से हैं। मेरी प्रार्थनाएं घायलों के साथ हैं। भारत इस तरह के कायराना हमलों के आगे कभी नहीं झुकेगा।”
केंद्र ने क्या कहा?
– वेंकैया नायडू ने कहा, ” अनंतनाग हमले के दोषियों को छोड़ने का सवाल ही नहीं। जानकारी के मुताबिक, अमरनाथ यात्रियों को ले जाने वाली बस ने इन्फॉर्म नहीं किया। उनके साथ सिक्युरिटी नहीं थी। ऐसा नहीं करना चाहिए। हमारा पड़ाेसी आतंक को प्रोत्साहित कर रहा है। ऐसे में सावधानी रखें। मारे गए लोगों के परिवार वालों के साथ मेरी सहानुभूति है। यात्रा ठीक ढंग से चलती रहे इसका पूरा प्रयास करेंगे।”
– “ये हमला इंसानियत के खिलाफ है। हम इसकी निंदा करते हैं। जम्मू-कश्मीर सरकार इसकी जांच कर रही है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *