Sardar Sarovar Dam: Medha Patkar Hospitalised By Police On The 12 Days Of Indefinite Fast

Sardar Sarovar Dam: Medha Patkar : सुबह कलेक्टर ने हाथ जोड़े, शाम को लाठीचार्ज; मेधा को पहुंचाया हाॅस्पिटल

Sardar Sarovar case: For the last 12 days, the fasting hunger strike.

सरदार सरोवर बांध की डूब का चिखल्दा गांव। नर्मदा घाटी में यहां पुनर्वास को लेकर उपवास का 12वां दिन। मेधा पाटकर की तबीयत रविवार की रात से दिन में कई बार बिगड़ी। धार कलेक्टर श्रीमन शुक्ला दो बार मनाने आए। तीसरी बार उन्होंने मोबाइल से बात की। कहा- अनशन तोड़ें और सरकार से बात करें। लेकिन मेधा नहीं मानीं। बोलीं- बात करने के लिए उपवास तोड़ने की क्या जरूरत। पहले पुनर्वास फिर कोई बात। दोपहर तक घाटी में लड़ेंगे-जीतेंगे के नारों में जोश चरम पर आ गया। प्रशासन ने भांप लिया मेधा नहीं मानेंगी। निसरपुर व बड़वानी में अलग-अलग रणनीति बनाई। गांव तक पहुंचने के सारे रास्ते बंद किए। शाम को पुलिस आंदोलनकारियों पर टूट पड़ी। इस तरह मेधा पाटकर को अनशन स्थल से हटाकर हॉस्पिटल ले गई पुलिस…

-आंदोलनकारी महिला हो या पुरुष। बच्चे व बुजुर्ग। किसी को नहीं बख्शा। किसी को जमीन से हटाया तो किसी को मंच से हाथ पकड़कर उठाया। किसी का गला तक दबाया। महिलाएं गुस्साई। चीखीं भी।
-मेधा के आसपास सुरक्षा घेरा बनाकर बचाया। पर पुलिस की भीड़ के आगे बेबस। बदसलूकी देख मेधा रो पड़ीं। कमजोर घेरा देख उसे महिला पुलिस ने स्ट्रेचर पर उठाकर कंधों पर ले लिया।
-ग्रामीण व कार्यकर्ता एक बार फिर गुस्साए। पुलिस के वाहनों के आगे आ गए। खदेड़ दिए गए।
-मेधा को इंदौर के बांबे हास्पिटल व बाकी अनशनकारियों को धार अस्पताल भेज दिया। 30 से ज्यादा कार्यकर्ता गिरफ्तार किए। चिखल्दा में ग्रामीणों ने अनशन शुरू कर दिया। बल तैनात है।

सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज

-नर्मदा घाटी के डूब प्रभावितों को मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में होने वाली सुनवाई का इंतजार है। पुनर्वास को लेकर उन्हें तारीख आगे बढ़ने की उम्मीद है।
-इससे पहले 31 दिसंबर को चीफ जस्टिस जेएस खेहर ने तारीख आगे बढ़ा दी थी।

यह गांधी के सपनों की हत्या है

– इंदौर ले जाने से पहले मेधा ने कहा, “मध्य प्रदेश सरकार 12 दिन के अनशन पर बैठे हुए 12 साथियों को गिरफ्तार करके जवाब दे रही है। अहिंसक आंदोलन का यह कोई जवाब नहीं है। मोदी-शिवराज सरकार के राज में आकंड़ों का खेल, कानून का उल्लंघन और केवल बल प्रयोग किया जा रहा है। यह गांधी के सपनों की हत्या है। पहले अनशन तोड़ो, फिर बात करो। यह हम कैसे मंजूर कर सकते हैं?”
– “इस मुद्दे पर 12 अगस्त को प्रधानमंत्री मोदी ने साधुओं और 12 राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ जश्न मनाया तो यह तय हो जाएगा कि सरकार विकास को कैसे अागे धकेलना चाह रही है।”

सरकार को जनता जवाब देगी : अजय सिंह

-नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने ट्वीट कर कहा कि मैं सरदार सरोवर बांध के विस्थापितों पर हुए लाठीचार्ज की निंदा करता हूं।
-आंदाेलन कर रहे विस्थापितों पर शिवराज सरकार के दमन का जवाब प्रदेश की जनता देगी। मैं मेधा पाटकर के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं।

शिवराज बोले…संवेदनशील हूं, पुनर्वास के लिए 900 करोड़ का अतिरिक्त पैकेज दिया

-चिखल्दा में हुए घटनाक्रम के बाद सोमवार देर रात मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कई ट्वीट किए। लिखा- “मैं संवेदनशील व्यक्ति हूं।”
-“डॉक्टरों की सलाह पर मेधाजी व उनके साथियों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। गिरफ्तार नहीं किया गया। उनकी स्थिति हाई कीटोन और शुगर के कारण चिंतनीय थी।”
-“सरकार ने विस्थापितों के लिए 900 करोड़ का अतिरिक्त पैकेज दिया है। मेधाजी को पूरी जानकारी देकर संतुष्ट करने की कोशिश की थी।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *