Sikar News: Employees Take Out Rally, Police Picket, Sit On Hold On The Collectorate

कर्मचारियों ने निकाली रैली, पुलिस से धक्का-मुक्की,कलेक्ट्रेट पर धरने पर बैठे

सातवें वेतन आयोग सहित 15 सूत्री मांगों को लेकर कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ दो-दो हाथ करने का ऐलान कर दिया। गुरुवार को कर्मचारियों ने डाक बंगले पर सभा कर कलेक्ट्रेट तक रैली निकाली। सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। यहां पर गिरफ्तारी देने आए कर्मचारियों की पुलिस के साथ भी झड़प हो गई। कर्मचारियों ने एक दिन पहले ही घोषणा कर दी थी कि वे गिरफ्तारी देंगे।

– इसके बाद भी पुलिस ने कोई व्यवस्था नहीं की तो कर्मचारी आक्रोशित हो गए। कलेक्ट्रेट पर पुलिस के साथ धक्का-मुक्की तक हो गई। कर्मचारी कलेक्ट्रेट के सामने ही जाम लगाकर बैठे गए। जिससे आधे घंटे तक कलेक्ट्रेट रोड पर वाहनों की लंबी कतारें लग गई।इंक्रीमेंट रोकने सातवें वेतन आयोग सहित 15 मांगों को लेकर कर्मचारी आंदोलन पर है। डाक बंगले पर सभा कर कर्मचारियों ने चेतावनी दी कि सरकार ने उनकी मांगे नहीं मानी तो वे सरकार के खिलाफ जबरदस्त आंदोलन करेंगे। डाक बंगले से कर्मचारी गिरफ्तारी देने के लिए कलेक्ट्रेट तक रैली में आए। यहां पर पुलिस ने गिरफ्तारी के लिए गाड़ियों का इंतजाम तक नहीं किया था।
– इससे आक्रोशित कर्मचारियों की पुलिस के साथ झड़प हो गई। पुलिस से धक्का-मुक्की होने लगी। कर्मचारियों का कहना था कि जब एक दिन पहले ही बता दिया था कि वे गिरफ्तारी देंगे तो इंतजाम क्यों नहीं किए गए। कर्मचारियों ने ज्ञापन की कॉपी भी फाड़कर फेंक दी। इसके बाद कर्मचारी जाम लगाकर बैठ गए। इसके बाद पुलिस की एक गाड़ी आई। जिसमें कर्मचारियों ने गिरफ्तारी दी। कर्मचारियों ने कहा कि वे सभी गिरफ्तारी देंगे। पुलिस के तीन वाहन और मंगवाए गए।

आगे क्या : 18 अगस्त को जयपुर सचिवालय के बाहर प्रदर्शन

कर्मचारियोंके अनुसार, 18 अगस्त को प्रदेशभर के कर्मचारी सचिवालय के बाहर प्रदर्शन करेंगे। इसके बाद तीन सितंबर को जिला स्तर पर भूख हड़ताल करेंगे। मांगें पूरी नहीं होने पर 11 अक्टूबर को प्रदेश के सभी कर्मचारी हड़ताल पर चले जाएंगे। वित्त विभाग ने 28 जुलाई को साल 2013 या उसके बाद नियुक्त कर्मचारियों की वेतन वृद्धि पर रोक लगाते हुए जुलाई के वेतन बिलों में संशोधन कर वेतन आहरण के आदेश पारित किए। राज्य सरकार ने यह करके कर्मचारी विरोधी होने का प्रमाणित कर दिया है।

70हजार कर्मचारी जाएंगे सामूहिक अवकाश पर

स्टेटपेरेटी के अनुसार, वेतनमान शासन सचिवालय के समान वेतन भत्ते की मांग कर रहे कर्मचारी आर-पार की लड़ाई के मूड में हैं। राजस्थान राज्य मंत्रालयिक कर्मचारी महासंघ के प्रदेश उपाध्यक्ष मुरलीधर शर्मा ने बताया कि प्रदेश के 70 हजार मंत्रालयिक कर्मचारी आठ से 11 अगस्त को सामूहिक अवकाश पर रहेंगे।

न्यूनतम पारिश्रमिक 21000 रु. प्रति माह चाहते हैं कर्मचारी

अखिलराजस्थान राज्य कर्मचारी संयुक्त महासंघ के पदाधिकारियों और कर्मचारियों ने गुरुवार को जिलाध्यक्ष भूपेंद्र काजला के नेतृत्व में कलेक्टर को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। राज्य कर्मचारी, बोर्ड, निगम, पंचायती राज स्वायत्तशाषी संस्थाओं के कर्मचारियों को सेवाकाल में पांच पदोन्नति के अवसर देने, समय पर डीपीसी करने, शिक्षा विभाग के प्रबोधकों को शिक्षक घोषित कर स्कूलों में शारीरिक शिक्षा योगा को अनिवार्य करने राजस्थान में संगठित क्षेत्र के कर्मचारियों और मजदूरों का न्यूनतम पारिश्रमिक 21 हजार रुपए प्रतिमाह करने सहित 15 सूत्रीय मांगें जल्द पूरी की जाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *